Breaking News
Home / इंटरनेशनल / मुस्लिम लड़की ने अपनी जान पर खेलकर बुर्के की मदद से बचाई भारतीय की जान, रातों रात बनी सेलीब्रिटी
मुस्लिम लड़की

मुस्लिम लड़की ने अपनी जान पर खेलकर बुर्के की मदद से बचाई भारतीय की जान, रातों रात बनी सेलीब्रिटी

एक मुस्लिम लड़की ने अपनी जान पर खेलकर बुर्के की मदद से एक भारतीय की जान बचाई यह घटना पूरी दुनिया में वायरल हो चुकी है और हर कोई इसे सलाम कर रहा है. यह घटना है दुबई की जहां अभी भी कई मायनों में महिलाओं पर बहुत से सारी पाबंदियां लगी हुयी है.

जिस तरह से हमारे भारत में नौजवान लड़कियों और महिलाओं को खुली छूट है जैसे के वह बाजारों में कहीं भी बिना पर्दे के घूम सकती हैं, कहीं भी आ जा सकती हैं. हालांकि दुबई में भी अब माहौल बदलने लगा है और महिलाओं को कुछ मामलों में राहत दी गई है जैसे के ड्राइविंग करना क्योंकि पहले दुबई में महिलाओं पर वाहन चलाने के लिए पाबंदी थे.

इसके अलावा वह अकेले बाजार भी नहीं जा सकती अगर उनको बाजार जाना है तो किसी एक मर्द का साथ रहना जरूरी होता है. चलिए अब बात करते हैं एक ऐसी घटना की जो एक लड़की ने कर दिखाया और वहां मौजूद भीड़ में कोई भी मर्द ना कर सका दरअसल हुआ यह था कि यहां पर एक भारतीय को जवाहर नाम की लड़की ने बचाया जिसके बाद से ही ये पूरी दुनिया में किसी सेलेब्रटी की तरह मशहूर हो गयी.

अजमान की रहने वाली यह 22 साल की लड़की अपने दोस्त के साथ रास अल खैमाह शहर की तरफ जा रही थी उन्होंने देखा बीच रास्ते में दो ट्रक खड़े हुए हैं जिस में आग लगी हुई है और उन्होंने देखा कि ट्रक के अंदर से किसी के चीखने की जोर से आवाजें आ रही थी और एक नौजवान ट्रक के केबिन में लपटों की चपेट में आ गया.

उन्होंने तुरंत अपनी गाड़ी रोकी और जवाहर ने दौड़कर अपनी जान जोखिम में डालते हुए अपनी दोस्त का बुर्का लिया और उस ट्रक ड्राइवर जिसका नाम हरकीरत सिंह है उसमे लगी हुयी आग लपटों पर काबू पा लिया.

 

इसके बाद किसी तरह ट्रक केबिन में लगी हुई आग को भी बुझा लिया गया आग बुझाने के बाद भी जवाहर काफी देर तक वही घटनास्थल पर ठहरी रही जब तक की इमरजेंसी सर्विस ना गई इसके बाद वह घटना को बता कर अपने गंतव्य की ओर बढ़ गई.

ये भी पढ़ें:

जब उन ट्रकों में आग लगी हुई थी तो घटनास्थल पर पहले से ही भीड़ मौजूद थी लेकिन किसी भी शख्स कि उनमें से हिम्मत नहीं हो रही थी क्यों आग लगे ट्रकों में से उस ड्राइवर की जान कोई बचा ले जवाहर ने वाकई में काबिले तारीफ काम किया था एक लड़की होते हुए भी उनका इस तरह से हौसला हो जाना वाकई में अपने आप में बड़ी बात है.

पुलिस ने किया सम्मानित:

इस घटना के बाद जब इमरजेंसी सर्विस ने स्थानीय पत्रकारों को यह वाली बात बताई और इमरजेंसी सर्विस के हेड नेम इस घटना को इंस्टाग्राम पर शेयर कर दिया और इसके बाद तमाम बड़े न्यूज़पेपर और चैनलों में किसी सेलिब्रिटी की तरह जवाहर रातो रात मशहूर हो गई और उसके बाद 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के दिन अबू धाबी स्थित भारतीय दूतावास में जवाहर को सम्मानित भी किया गया.

Check Also

हिन्दू

सनातन हिन्दू परंपरा का अपमान कर रहे है मुख्यमंत्री योगी , सनातन परंपरा सबको साथ में लेकर चलने की हामी रही है – राकांपा

राकांपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमेश दीक्षित ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा राज्यपाल के अभिभाषण पर ...